Open source software क्या है और इसके फायदे नुकसान

Open source software क्या है और इसके फायदे नुकसान

आज हम ऐसे विषय के बारे में बात करेंगे जिसके बारे में ज्यादा लोगो को नहीं पता है, कंप्यूटर और मोबाइल में हम जो भी कार्य करते है वो सभी हम अलग अलग विशेष software के मदद से करते है ये software program द्वारा लिखे और विकाशित किए जाते है, अगर आप कंप्यूटर स्टूटेन है या फिर आपने किसी कंप्यूटर का कोर्स किय है तो आपने OPEN COURCE सॉफ्टवेर का नाम जरूर सुना होगा लेकीन आप कंप्यूटर की दुनिया से जुड़े इस महत्व पूर्ण टर्म के बारे में नहीं जानते है तो हम आपको पुरी इनफ्रोमेशन दिए हैं  , की  open source software kya hai

Open source software

OPEN SOURCE SOFTWARE KYA HOTA HAI ?

 

जब एक डेवलपर अपनी तकनीकी ज्ञान से एक सॉफ्टवेयर बनाता है तो उस सॉफ्टवेर को बनाने के लिए लिखे गए सोर्स कोड को एक लाइसेंस के साथ सार्वजनिक तौर पर सभी मनुष्यो को उस सॉफ्टवेर के सोर्स को पढ़ने उसमे सुधार करने का और अपने इच्छा के अनुशार बदलाव करने का अधिकार दे देता है , उस software को OPEN SOURCE SOFTWARE कहते है, अर्थात open source software ऐसा सॉफ्टवेर है जो सोर्स कोड के साथ बनाय जता है जिसे यूजर द्वारा पढ़ जा सकता है और इसका सोर्स कोड इन्टरनेट पर मुख्य रूप में उपलब्ध होता है । open source software की श्रेणी में , वैसे सॉफ्टवेर आते हैं जिनका सोर्स कोड उस सॉफ्टवेर के साथ सब के लिए उपलब्ध होता है सामान्य रूप से open source software के लिए डेवोलेप का समूह जिसे डेवोलेपर कॉमिनिटी भी कह जता है यहां सब मिलकर कार्य करते हैं ।

 

NATIONL RESOURCE CENTRE FOR FREE / OPEN SOURCE SOFTWARE एक सरकारी संगठन है जो भारत में open source software के वृद्धि करने के लिए बनया गया है , अगर आप कंप्यूटर या मोबाइल का इस्तमाल करते हैं तब आप आपने डिवाइस मे कुछ सोफ्टवेयर या ऐप्स डाउनलोड के लिए इन्टरनेट पर सर्च करते है तो आपने बहुत सरे ऐसे सॉफ्टवेर को देख होगा जो फ्री में उपलब्ध होते हैं सारे सॉफ्टवेर OPEN SOURCE SOFTWARE के द्वारा ही बनाए गए होते है !

 

अब आप सोच रहे होंगे कि open source software में कैसे कोई व्यक्ति बदलाव कर सकते हैं जबकि उस सॉफ्टवेर को बनाने वाला कोई और ही होता है तो चलिए विस्तार से जानते है

 

कोई भी सॉफ्टवेर बनाने के लिए coding कि जरूरत होती है, और coding दो तरह की होती है ।

 

1 – SOURCE CODE

 

2 – OBJECT CODE

 

जब तक किसी programming language जैसे – C, C++ , JAVA जैसे लेंगवेज में प्रोग्राम लिखते हैं तो प्रोग्राम 5 / 10 लाइन का नही होता , बहुत सारी लाइन का होता है, और उस समूह को हम कम्प्यूटर कि भाषा में PROGRAM INTRCTION कहते है , जो एक कोड की तरह होता है इस कोड को हम SOURCE CODE कहते है हम सॉफ्टवेर कंप्यूटर डिवाइस में रन करने के लिए बनाते हैं लेकीन इस सोर्स कोड को कंपयूटर नहीं समझ पाता क्युकी सोर्स कोड युमान रेडिंग फॉर्म्ड में होता है जिसे हम और आप ही समझ पाते हैं कंप्यूटर द्वारा लिखे गए सोर्स कोड को समझ सके इसके लिए कंप्यूटर के सहयत लिए जाते हैं जो सोर्स कोड को ऑब्जेक्ट कोड में परिवर्तित करत है , कंप्यूटर सिर्फ 0 या 1 को ही समझता है उसे ही ऑब्जेक्ट कोड या मिशन कोड कहा जाता है ये ऑब्जेक्ट कोड 0 और 1 pait का सिक्वेंस होता है जैसे= 01,011,00 जो हम मनुष्य समझ नही सकते, लेकीन कंप्यूटर इसे समझ पाता है , उसके बाद सॉफ्टवेर को रन करत है तब जाकर सॉफ्टवर बन कर तैयार होता है , इश्लिये जब हमे किसी सोफ्टवेयर का सोर्स कोड उपलब्ध होता है तो हम उसमे अपनी जरूरत के अनुशार सोर्स कोड में परिवर्तित कर उसमे नई नई फ्यूचर का बदलाव कर सकते हैं सोर्स कोड का इस्तमाल करके नया सोफ्टवेयर डेवलप कर सकते हैं और उसे मुफ्त और कुछ सुल्का के साथ बेच भी सकते हैं इन सभी कार्यों पर किसी की पाबंदी नहीं रहती है । एसा नहीं है कि इन्टरनेट पर जितनी भी ऐप्स और सोफ्टवेयर मिलती है वो अभी मुफ्त में उपलब्ध होता है कुछ ऐसे भी सोफ्टवेयर है जिनका इस्तमाल करने के लिए कीमत देने पढ़ती है जो सोफ्टवेयर हम पैसे देकर इस्तमाल करते हैं वो एक closed sources software होता है इस सोफ्टवेयर का सोर्स कोड आपने सॉफ्टवेर के साथ नही मिलता इश्लीय इसमें कोई परिवर्तन नहीं किया जा सकता है closed sources software का बहुत सुरक्षित रख जाता है इसको केवल वही कंपनी मोडीफाइड और डेवलप कर सकते हैं जिसने इस सोफ्टवेयर को बनया है closed sources software का सिंपल सा उदाहरण है , windows और iOS ओपरेटिंग सिस्टम सोफ्टवेयर जो एक close source software है ।

 

अब जानेंगे OPEN SOURCE और CLOSE SOURCE में क्या अंतर होता है

 

Open source software,close source software से बेहतर होता है क्योंकि हम open source software में source code को अपने मुताबिक मोडीफाइड करके उपयोग करने के लिए आसान बना सकते हैं । जबकि close source software ऐश करना संभव नहीं है इसलिए जायदा तर नए डेवलपर ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर का इस्तमाल करते हैं ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर का सबसे बड़ा और लोकप्रिय उद्धारण है Android जिसे आज लाखो करोड़ों लोग इस्तमाल करते हैं android google द्वारा बनाया गया एक open source ओपरेटिंग सिस्टम सोफ्टवेयर है जिसका इस्तमाल कोई भी कर सकता है और उसमे अपने अनुशार बदलाव भी कर सकते हैं । अगर आप डिवॉल्पर बनना चाहते हैं और अपको open source software की जरूर है जहां से आप सॉफ्टवेयर बनाने का कार्य कर सकते हैं, तो उसके लिए कुछ वेबसाइट भी मावजूद है जिनका नाम www, sourceforge. Com, www, open source. Org ।

 

दोस्तो अब जानेंगे कि open source software के क्या क्या फायदे होते हैं ___

 

1 – free of cost

 

open source software के अंतर्गत जितने भी सोफ्टवेयर डेवलप किए जाते हैं उसे निशुल्क उपलब्ध कराए जाते हैं इस सोफ्टवेयर के सोर्स कोड पुरी तरह से मुक्त में प्परदान किए जाते हैं , जिसे कोई भी बदलाव कर सकते हैं एक अनुमान से ये पता चला है कि open source software के मुफ्त में उपलब्ध होने की वजह से प्रति वर्ष लोगो के लगभग 60 $ Billion dollar paise की बचत होती है ।

 

2 – high quality

 

Open source software की क्वालिटी close source software से भी जायद बेहतर होती है , क्युकी इन्हे दुनियां की अलग अलग डेवलपर अपनी जरूरतों के हिसाब से विकाषित करते है इश्लिए इस सोफ्टवेयर मे हर प्रकार के यूजर के जरूरत का खयाल रखा जाता है साथ ही इसमें छोटी मोटी कमियां समय से पहले ही ठीक कर दिया जाता है यही कारण है कि सोफ्टवेयर की क्वालिटी बहुत अच्छी होती है ।

 

3 – security 

 

Open source software बेहतर क्वालिटी के साथ साथ अधिक सुरक्षित होते है ये समय समय पर अपडेट भी किए जाते हैं जहां पर इनके bgs और erorr को ठीक किया जाता है इससे यह सोफ्टवेयर पुरी तरह से सुरक्षित रहता है क्युकी इसमें दुनिया भर के डेवलपर योगदान दिया जाता है इसलिए ये बहुत शक्तिशाली भी होते हैं ।

 

4 – Trening

 

बहुत से लोग open source software को इश्लिय पसंद करते हैं क्युकी इसका उपयोग करके वो बेहतर प्रोग्राम बना सकते है ये सोफ्टवेयर open होता है जिसमे कोई भी biggner इसका सोर्स कोड देख कर अशनी से प्रोग्रामिंग कर सकता है ।

 

5 – Controll

 

Open source software के साथ source code भी उपलब्ध करवाये जाते हैं इश्लिये यूजर अपने जरूरत के अनुशार इन सोफ्टवेयर को कोड को खुद जांच करके बदलाव कर सकते हैं यूजर को सोर्स कोड में मोडीफाइड करने में पुरी controll दिया जाता है open source software source code की मुफ़्त उपलब्त्ता के करन हर कोई आगे के विकास के लिए योगदान दे सकता है ।

 

तो दोस्तो आश है कि open source software क्या है और इससे जुडी सारी जानकारियां अपको मिल गईं होगी । Thank you so much

Leave a Comment